स्कॉर्पियो लूट व चालक हत्याकांड का हुआ उद्भेदन, चार गिरफ्तार…

0

राजेश झा की रिपोर्ट।
समस्तीपुर,30 नवम्बर।

विभूतिपुर थाना क्षेत्र के बहुचर्चित स्कॉर्पियो लूट वो चालक हत्याकांड के मामले का पुलिस ने उद्बोधन कर लिया है। इस मामले में शाख मोहन गांव के राहुल कुमार उर्फ पनिया, कर्रख गांव के रामबाबू सिंह उर्फ संजीत कुमार, बेला रघुनाथपुर गांव के सत्यम कुमार एवं साख मोहन गांव के ऋषभ कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। लुटेरों ने समस्तीपुर से योजना बनाकर स्कॉर्पियो भारे कर लिया था, योजना के अनुसार चालक की हत्या कर स्कॉर्पियो लूटकर सभी अपराधी भाग गए थे। लुटेरों ने देवघर जाकर ₹170000 में स्कॉर्पियो बेच दिया था। बताया गया है कि विगत 18 जून 2018 को अपराधियों ने स्कॉर्पियो चालक जितवारपुर निजामत के शंभू राय की गोली मारकर हत्या कर दी थी, उसके शव को शाख मोहन में शहीद स्मारक के निकट केललबन्नी में फेंक दिया था। डीएसपी रोसड़ा अजीत कुमार ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि इस मामले में कांड संख्या 177 दर्ज किया गया था। सुबह में शव मिलने की सूचना पर घटनास्थल पर पुलिस पहुंची थी, और इस मामले के उद्बोधन के लिए थानाध्यक्ष के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था। वैज्ञानिक अनुसंधान के आधार पर कांड को उजागर कर लिया गया है।
इसके मुख्य आरोपी शाख मोहन गांव के राहुल कुमार उर्फ पनिया को पूर्व में ही तमंचे के साथ पुलिस ने गिरफ्तार कर ली थी, राहुल कुमार उर्फ पनिया ने इस कांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए अपराधियों से मिलकर इस घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार की थी। इसी आधार पर कर्रख गांव से रामबाबू सिंह, शाख मोहन गांव के ऋषभ कुमार तथा बेला रघुनाथपुर के सत्यम कुमार को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर ली है। बताया गया है कि सत्यम एवं ऋषभ मैट्रिक के परीक्षार्थी हैं जिन्हें उक्त अपराधी रामबाबू सिंह ने बहला-फुसलाकर इस कांड में शामिल कर लिया था। पनिया और राम बाबू कुख्यात अपराधी हैं जिनके खिलाफ विभूतिपुर सहित जिले के कई थानों में कांड दर्ज हैं। इससे पूर्व जितवारपुर के मृतक संभू राय के भाई दीनदयाल राय ने 19 जून 2018 को इससे की एक प्राथमिकी दर्ज कराते हुए अज्ञात अपराधियों को आरोपित किया था ।प्राथमिकी में कहा गया है कि शंभू राय स्कॉर्पियो का चालक था जो समस्तीपुर रेलवे स्टेशन से भारे पर जाता था। 18 जून को अपने घर से स्कॉर्पियो के मालिक के यहां गया था, उन्होंने बताया है कि शव के पास से एक मोबाइल, गाड़ी का टूटा हुआ एलसीडी, एक हाफ शर्ट एवं खोखा का एक अग्रभाग भी पुलिस ने बरामद की थी। प्राथमिकी में कहा गया था कि अपराधियों ने किसी अन्य जगह पर गोली मार कर उसकी हत्या कर इस सुनसान स्थल पर उसके शव को फेंक दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here