अहाँ केँ कहैत रही ने नरेंद्र जे मैथिल जीवैत जी केकरो नहि छियैक ओ मुइलाक बाद इ अहाँक कोना भए जाएत!

0

पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि: अहाँ केँ कहैत रही ने नरेंद्र जे मैथिल जीवैत जी केकरो नहि छियैक ओ मुइलाक बाद इ अहाँक कोना भए जाएत!

मुदा अहाँ बात नै मानलहुँ। लोक ऊँचाई पर पहुँचैत अछि त ओ अपन गाम-घर के बिसरि जाएत छथि आर एकटा अहाँ जे जौं-जौं अपन जीवनक ऊँचाई पर पहुँचैत गेलौंहुँ तौं-तौं अप्पन गाम-घर आ समाज सँ जुड़ैत रहलौंहु। मुदा आइ अहाँ त ऊपर सँ सबटा देखिए रहल हेबै, अहाँक अप्पन मैथिल समाज कतेक मिस कए रहल छथि? जिनका वास्ते मुम्बई-दिल्लीआ गाम एक कए देने रही। जे अपनेक संग राति में फोटो खिचेबाक बाद सूर्यौदय होमो सँ पूर्वहि फ़ोटो पोस्ट कए दैत छलाह आइ वैय्ह स्वार्थी मैथिल भाई लोकनि अहाँके बिसरि गेलाह। खैर, अपने त सबटा देखिए रहल होएब…भलेहिं अहाँ हमरा सभके छोड़ि ऊपर चलि गेलहुँ मुदा हमरा विश्वास अछि अहाँक आत्मा त एखनो मातृभूमिए में विचरण कए रहल अछि। अपने त ओहो दृश्य देखने होएब जखन हमरलोकनिक बीच सँ चलि गेलहुँ आ मैथिल समाज कोना हैय्या-दैय्या करै छल, व्हाटऐप्स, फेसबुक पर आँखि सँ कोना गंगा-जमुना बहबै छलाह। किछु गोटे त फेसबुक पर लाइव आबि कए भोंकारि पारि कनलाह-खिजलाह। हुनका अपनेक गेलाक बड बेसि सदमा लगलैनि। ओ केसकट्टी सँ लए करिया ड्रेस धरि धारण कएलाह। म हुनका पांचटा काठी चढ़बै लेल फुरसैत नहि छलन्हि। किछु गोटे त अपनेक नाम सँ सम्मान समारोह करबाक सेहो घोषणा कएने छलाह। सबके सब फोकठि लोक निकलल।

14 मार्च 2018 हृदयाघात सँ मृत्यु

परिचय: नरेंद्र झा

अपन गामक भद्रकाली नाट्य परिषदक मंच पर छोट-छोट अभिनय केनिहार दिवंगत नरेंद्र झा अप्पन मेहनत आ लगन सँ टीवी सीरियल सँ बॉलीवड धरि पताका लहरौलानि। हिनक जन्म 2 सिंतबर 1964 केँ मिथिलाक मधुबनी जिला केर कोइलख गाममें भेल छलन्हि। हिनक पिता शुभनारायण झा कोइलख हाई स्कूल केर पूर्व प्रधानाध्यापक रहि चुकल छथि। हिनका गाममें कन्हैया सँ नाम सँ जानल जाए छन्हि।

गाममें प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त कए ओ दिल्ली आबि गेलाह। जतय ओ JNU सँ इतिहासमे एमए कएलाक बाद सिविल सर्विस परीक्षा केर तैयारी लेल सोचतहि छलाह कि, एहि बीच हुनक रुचि अभिनय दिस होमय लगलन्हि। जेकर परिणाम भेल जे ओ 1992 में SRCC में एक्टिंग डिप्लोमा कोर्समें नामांकन कएलथि तकरा बाद बहुत रास विज्ञापनक में काज कएलाह। दिनों-दिनों हिनक सगरों चर्चा होमए लागल। एक दिन टीवी सीरियलक निर्देशक केर नजरि हिनका पर पड़लनि। तकर बाद सँ कतेको टीवी सीरियल में दमदार अभिनय केलाह जाहिमें, संविधान, हवन, बेगुसराय, शांति, एक घर बनाऊंगा, कैप्टन हाउस, जय हनुमान सहित अन्य बहुत रास शो एहिमें शामिल अछि। बॉलीवुड सिनेमा हैदर,मोहनजोदड़ो,रईस, घायल वन्स अगेन, माय फ़ादर इक़बाल में जबरदस्त अभिनय सँ बॉलीवुड में अपन छाप छोड़वा में कामयाब रहलाह।

(ये आलेख पत्रकार राहुल राय के निजी विचार पर आधारित है।)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here