बिहार के इन सभी विश्‍वविद्यालयों में “थर्ड ग्रेड स्टाफ” की होगी नियुक्ति।

0

राज्य के सभी विश्‍वविद्यालयों में थर्ड ग्रेड स्टाफ की नियुक्ति होगी। नियुक्ति में पारदर्शिता लाने के लिए पूरी प्रक्रिया पोर्टल के माध्यम से अपनाई जाएगी। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी 21 सितंबर को तीन पोर्टल का शुभारंभ करेंगे। पोर्टल में कर्मियों की नियुक्ति की प्रक्रिया संबंधी सारी जानकारी होगी। विश्‍वविद्यालयों से रिक्‍त पदों की सूची मांगी गई है। मोटे तौर पर दस हजार के आसपास रिक्‍त पद इन विवि में हैं।

राज्य के पटना विश्‍वविद्यालय, पाटलिपुत्र विश्‍वविद्यालय, मगध विश्‍वविद्यालय, वीर कुंवर सिंह विश्‍वविद्यालय, जयप्रकाश विश्‍वविद्यालय, बीआरए बिहार विश्‍वविद्यालय, ललित नारायण मिथिला विश्‍वविद्यालय, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्‍वविद्यालय, बीएन मंडल विश्‍वविद्यालय, पूर्णिया विश्‍वविद्यालय, तिलका मांझी भागलपुर विश्‍वविद्यालय, मुंगेर विश्‍वविद्यालय एवं मौलाना मजहरुल हक अरबी फारसी विश्‍वविद्यालय में साढ़े नौ हजार से ज्यादा विभिन्न पद खाली हैं। शिक्षा विभाग ने विश्‍वविद्यालयों से रोस्टर क्लियर कराते हुए खाली पदों की सूची मांगी है।

शिक्षा विभाग ने डिग्री कॉलेजों को आनलाइन एफियेशन से संबंधित तैयार किया है। शिक्षा मंत्री इस पोर्टल को भी लांच करेंगे। इस पोर्टल के माध्यम से संबद्धन के लिए आवेदन आनलाइन लिए जाएंगे। विश्वविद्यालयों द्वारा डिग्री कॉलेजों 18 अक्तूबर तक आनलाइन आवेदन लिए जाएंगे। उसे विश्‍वविद्यालय अपने प्रस्ताव के साथ 15 जनवरी तक शिक्षा विभाग को ऑनलाइन भेजेगा। इसी तरह एक और पोर्टल के माध्यम से संबद्ध डिग्री कालेजों को रिजल्ट आधारित अनुदान दिए जाने की व्यवस्था आनलाइन की जाएगी।

राज्य में तकरीबन 227 संबद्ध डिग्री कालेज हैं। संबद्ध डिग्री कालेजों को उसके छात्र-छात्राओं के स्नातक परीक्षा के श्रेणीवार रिजल्ट के आधार पर अनुदान देने की व्यवस्था है। जिन विश्‍वविद्यालयों के अधीन संंबद्ध डिग्री कालेज संचालित हैं, उनमें पाटलिपुत्र विश्‍वविद्यालय, मगध विश्‍वविद्यालय, वीर कुंवर सिंह विश्‍वविद्यालय, जयप्रकाश विश्‍वविद्यालय, बी.आर.ए. बिहार विश्‍वविद्यालय, ललित नारायण मिथिला विश्‍वविद्यालय, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्‍वविद्यालय, बी. एन. मंडल विश्‍वविद्यालय, पूर्णिया विश्‍वविद्यालय, तिलका मांझी भागलपुर विश्‍वविद्यालय एवं मुंगेर विश्‍वविद्यालय शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here