छात्रहित में छात्रों की समस्याओं के निदान हेतु प्रतिबद्ध हैं ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी के कुलपति।

0

दरभंगा 09 जून ल0ना0 मिथिला विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो0 सुरेन्द्र प्रताप सिंह की एक सार्थक पहल से सैकड़ों छात्रों की समस्या का निदान इस लाॅकडाउन अवधि में भी हो सका है। विगत तीन माह से कोविड-19 महामारी के कारण कार्यालय का कार्य बाधित है लेकिन उसके वाबजूद छात्रहित में कोविड-19 के नियमों का अक्षरशः पालन करते हुए कुल 1836 आवेदनों में से 1486 आवेदनों का परीक्षा विभाग के द्वारा निष्पादन किया गया। प्रो0 सिंह ने कहा कि अब इसी प्रकार के वातावरण में कार्य करने की पद्धति को सुचारू बनाना होगा और विश्वविद्यालय के सबसे बड़े हितग्रही छात्रों की समस्याओं का निपटारा करना हमारा प्रथम दायित्व है। ज्ञातव्य हो कि 10.04.2021 से 09.06.2021 तक पार्ट – 1 के छात्रों के द्वारा कुल 461 आवेदन प्राप्त हुए जिनमें 411 आवेदनों का निष्पादन किया जा चुका है और शेष 50 आवेदन प्रक्रियाधीन है। पार्ट – 2 में विभिन्न समस्याओं को लेकर 225 आवेदन प्राप्त हुऐ थे, उसमें 125 आवेदनों का निपटारा किया जा चुका है तथा 100 आवेदनों के समस्याओं का निष्पादन प्रक्रियाधीन है। पार्ट – 3 के 1150 आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें 950 आवेदनों का निष्पादन किया जा चुका है और शेष प्रक्रियाधीन है। अर्थात् कुल आवेदन 1836 में 1486 आवेदनों को निष्पादन किया जा चुका और संबंधित काॅलेजों को इसकि सूचना भेजी जा चुकी है। कुलसचिव प्रो0 मुश्ताक अहमद ने कहा कि परीक्षा विभाग ने इस लाॅकडाउन में भी जोखीम की परवाह ना करते हुए भी जो कार्य किया है वो सराहणीय है। अन्य विभागों के कार्यों की सूची बनाने का भी उन्होंने आदेश दिया है ताकि ये पता चल सके कि कार्यालयों में कार्य की गति क्या है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here