मजदूर राहुल झा हत्याकांड: पीड़ित परिवार से मिले जनाधिकार पार्टी के नेता,किया आर्थिक मदद।

0

दरभंगा: जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव इस समय जेल में कैद हैं और इलाज के लिए डीएमसीएच में इलाजरत है, इस घटना की जानकारी मिलते ही राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने मृतक राहुल झा के परिवार के साथ मजबूती से खड़े रहने का आग्रह किया, एवं पार्टी की ओर से आज 20,000 रुपए की आर्थिक मदद अविलंब उनके परिवार को देने का निर्देश भी दिया। पीड़ित परिवार को आर्थिक मदद देने के लिए जिला अध्यक्ष डॉक्टर मुन्ना खान उपाध्यक्ष पुतून बिहारी, प्रधान महासचिव राजेश यादव उर्फ चुनमुन यादव, अकलीयत जिला अध्यक्ष पप्पू सरदार, दीपक झा,रौशन झा,काशिफ इकबाल आदि कार्यकर्ता मौजूद थे, ज्ञात हो कि मंगलवार को राहुल कुमार झा उम्र 24 साल पिता नरेंद्र नाथ झा निवासी इंदिरा चौक मिर्जापुर अपने एवं परिवार के भरण पोषण के लिए दिल्ली से लौटकर मजदूरी कर रहे थे। इसी क्रम में डॉक्टर सिद्धार्थ कुमार निवासी बलभद्रपुर के यहां विगत 9- 10 दिनों से मजदूरी का काम उन्हीं के निवास पर कर रहे थे। ज्ञात हो कि डॉक्टर सिद्धार्थ कुमार के निवास में ही उनकी किल्नीक भी चल रही है। वही दूसरी ओर मंगलवार की रात्रि में यह खबर फैली के अपनी मजदूरी मांगने गए मजदूर राहुल कुमार झा को बुरी तरीके से पीट पीट कर हत्या कर दी गई है जिसको लेकर जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के कार्यकर्ता इंदिरा चौक निकट पुअर होम के पास टायर जलाकर सड़क को जाम कर दिया और दोषियों को अविलंब गिरफ्तार करने एवं परिवार को मुआवजा देने की मांग करने लगे। पुलिस प्रशासन के आने के बाद अगले दिन तक अपराधियों को पकड़ने एवं बैठकर बात करने की बात पर जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सड़क से जाम हटा दिया। सूत्रों की माने तो राहुल झा के तीन हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया गया है एवं पूछताछ जारी है। पुलिस का कहना है कि डॉक्टर की संलिप्तता की जांच की जा रही है अगर डॉक्टर भी दोषी पाया गया तो एफ.आई.आर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। दोषी बख्शे नहीं जाएंगे, वहीं जाप जिला अध्यक्ष डॉ० मुन्ना खान का कहना है कि डॉक्टर के क्लीनिक पर सीसीटीवी मौजूद है। उसका वीडियो सार्वजनिक किया जाए। राहुल झा के पोस्टमार्टम रिपोर्ट को डॉक्टर्स की टीम बनाकर सार्वजनिक किया जाए। अत्यंत गरीब परिवार है इसीलिए कम से कम दस लाख रूपये का मुआवजा नीतीश सरकार दे।  प्रधान महासचिव राजेश यादव उर्फ चुनमुन यादव ने कहा कि राहुल झा के पिता बूढ़े हैं दिल्ली में मजदूरी करते हैं, राहुल की हत्या के बाद उसके परिवार की दुर्दशा देखी नहीं जा सकती है इसलिए किसी एक भाई को नौकरी अविलंब दिया जाए। दीपक झा ने कहा कि अपराधियों का मनोबल बिहार में बहुत बढ़ गया है प्रशासन का डर शुन्य हो गया है इसीलिए अपराध करने में किसी को कोई डर या भय नहीं होती। रोशन झा ने कहा कि गिरफ्तार किए गए अपराधियों पर स्पीडी ट्रायल चलाकर फांसी की सजा दी जाए।

नगर अध्यक्ष पप्पू सरदार ने कहा कि प्रशासन और डॉक्टर पर भरोसा आम आवाम का उठता जा रहा है, क्योंकि हत्या होती है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आत्महत्या का आता है, इसीलिए जनता आंदोलन के लिए बाध्य होती है। प्रशासन को चाहिए कि इस पर भी पूरी नजर रखें, अगर डॉक्टर सिद्धार्थ कुमार कि संलीप्ता है तो सजा के साथ-साथ आर्थिक दंड भी देने का काम करें।

वही मृतक राहुल कुमार झा के पिता के साथ 10 सदस्य एक शिष्टमंडल ने एसएसपी बाबूराम से जाकर डीएसपी अनुज कुमार लहरियासराय थाना प्रभारी की उपस्थिति में मुलाकात की जहां उसके पिता ने एसएसपी बाबूराम से न्याय का गुहार लगाते हुए कहा कि एक जवान पुत्र के हत्या होने की व्यथा को समझ सकते हैं। मेरे पुत्र को हत्या करने वाले एक भी अपराधी बचना नहीं चाहिए। जिस पर एसएसपी ने न्याय दिलाने का की बात कही। 10 सदस्य शिष्टमंडल में जाप के राजेश यादव उर्फ चुनमुन यादव, दीपक झा, रोशन झा , चंद्रकांत सिंह यादव एवं मिर्जापुर के स्थानीय निवासी निशांत चौधरी, रंजीत चौधरी, संजीव झा, मुरलीधर, विक्रम चौधरी, सोनू मिश्रा उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here