मानवीय संवेदना के संवाहक बनकर उभरे परशुराम सेवा संस्थान के सदस्यों ने एक लाख एक रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।

0

सड़क दुर्घटना में अनाथ हुए बालक की मदद मे आगे आया परशुराम सेवा संस्थान, पहुंचायी जा रही है आर्थिक मदद।

मानवीय संवेदना के संवाहक बनकर उभरे परशुराम सेवा संस्थान के सदस्यों ने एक लाख एक रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की।

दरभंगा : जिले के बेनीपुर प्रखंड के मकरमपुर गांव में कृष्णा चौधरी को परशुराम सेवा संस्थान द्वारा एक लाख एक रुपये की आर्थिक सहायता समर्पित करने की घोषणा परशुराम सेवा संस्थान ने की है।

परशुराम सेवा संस्थान के प्रमुख सदस्य आदित्य नारायण चौधरी “मन्ना” ने शनिवार को मकमपुर गाँव पहुँचकर स्थिति की जानकारी ली और परशुराम सेवा संस्थान के माध्यम से एक लाख एक रुपये की आर्थिक मदद का भरोसा दिलाया।

आदित्य नारायण”मन्ना”ने बताया कि यह रूपया NSC के माध्यम से मृतक अशोक चौधरी व उनकी पत्नी का गया में श्राद्ध कर्म कर लौटने के बाद परशुराम सेवा संस्थान के सदस्य पप्पू चौधरी , राकेश सिंह टुन्नी , अवधेश कुमार चौधरी “मुन्ना” ,पंकज झा , प्रशांत कुमार झा , रणधीर चौहान , सुबोध चौधरी , विजय ठाकुर , ई. रामेश्वर झा आदि लोग के सहयोग से अगले सप्ताह में शुक्रवार को कृष्णा के दादा रमेश चौधरी को उक्त राशि समर्पित किया जाएगा।

बताते चलें कि बेनीपुर प्रखंड के बहेड़ा थाना क्षेत्र के मकरमपुर गांव निवासी अशोक चौधरी व उनकी पत्नी की दरभंगा लौटते समय गत 16 मई को सड़क दुर्घटना में मौत हो गयी थी। जबकि उनका सात वर्ष का इकलौता बेटा कृष्णा सुरक्षित बच गया था। बच्चे के सर से मा बाप का साया उठ जाने के बाद फिलहाल उनके बड़े चाचा पंकज चौधरी और 70 वर्षीय दादा रमेश चौधरी ही सहारा है।

न्यूज़ ऑफ मिथिला ने 7 वर्षीय कृष्णा चौधरी की मदद को लेकर लगातार लोगों से अपील की है। समाजसेवियों द्वारा बच्चों की मदद के लिए हाथ बढ़ चुके हैं।

फ़िलहाल समाजसेवियों द्वारा सहायता राशि प्रदान की जा रही है। अब जनप्रतिनिधियों व सरकार की बारी है अब देखने वाली बात यह होगी कि आश्वासन देने वाले कितने जनप्रतिनिधि आगे आते हैं या फ़िर देखना होगा कि सरकार की नींद कब खुलती है!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here