IG से मिला AIRA का शिष्टमंडल,पत्रकारों ने कहा ; 72 घंटे के अंदर मामले का खुलासा नही हुआ तो दरभंगा में होगा उग्र आंदोलन

0

दरभंगा । वीडियो वायरल कर पत्रकार को मारने की साजिश का मामला अभी पुलिस के जांच और धीमी कार्रवाई में पड़ा है। इसे लेकर ऑल इंडियन रिपोर्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष भवन मिश्रा के नेतृत्व में पत्रकारों का एक शिष्टमंडल जोनल आईजी पंकज कुमार दाराद से मिलकर एक विज्ञप्ति सौंपा है। जिसमें 29 दिसंबर को नगर थाना क्षेत्र के नाग मंदिर के पास सुनील राय की गोली मारकर हत्या के बाद हत्या के आरोपी विपिन राय ने फेसबुक पेज पर वीडियो वायरल कर कहा था कि हत्या एक दैनिक अखबार के पत्रकार राकेश कुमार नीरज की साजिश थी। इस भेद खुल जाने के डर से गोली उस पर चलाई गई जो सुनील राय को लगा। पत्रकारों ने आईजी से मांग की कि वीडियो के पीछे की सच्चाई को उजागर की जाए और इसमें शामिल लोगों को बेनकाब किया जाए। अपराधियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया जाए। पत्रकारों ने अपने विज्ञप्ति में कहा है कि 72 घंटे के अंदर मामले का उद्भेदन नहीं हुआ तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। वहीं, इस मामले को लेकर कमिश्नर के सचिव विनय कुमार से भी शिष्टमंडल ने मिलकर मामले से अवगत कराया और कार्रवाई की मांग की।
शिष्टमंडल में कौशल किशोर कर्ण, नासिर हुसैन, अमर कुमार मिश्रा, संजय दास, पंकज आनंद, अभिषेक कुमार, शशि नाथ सिंह, लक्ष्मण कुमार, अभिनव सिंह, सूरज कुमार, रंजय कुमार, प्रभात पांडे, राहुल गुप्ता, इरफान अहमद पैदल, दिलीप झा, अशोक कुमार, सत्येंद्र सिंह, अब्दुल कलाम गुड्डू ,प्रभाष रंजन, प्रवीण मल्होत्रा, इम्तियाज अहमद, राज कुमार रंजन, चंद्रजीत कुमार, पंकज महासेठ, अरुण कुमार आदि उपस्थित थे।

जोनल आईजी पंकज कुमार दाराद ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसडीपीओ सदर को आदेश दिया है कि मामले के उद्भेदन के लिए पुलिस की अगर 10 टीम बनानी पड़े तो उसे बनाएं। इस घटना के बाद शहर के लोगों को लग रहा है कि पुलिस धीरे चल रही है। पुलिस का विश्वास जनता से न उठे। इसके लिए त्वरित कार्रवाई करें। आईजी स्तर से हर तरह की सहयोग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले का मोबइल सीडीआर निकाल कर लोकेट किया जाए और हर नजरिए से इसकी जांच की जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस जांच की सभी जानकारी उन्हें लगातार दी जाए। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पुलिस टीम बनाकर जल्दी पूरे मामले का उद्भेदन कर लिया जाएगा। वहीं, इस मामले को लेकर कमिश्नर के सचिव विनय कुमार से भी शिष्टमंडल ने मिलकर मामले से अवगत कराया और कार्रवाई की मांग।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here