क्रिकेट जगत: दरभंगा के सुशांत आज इंग्लैड में दिखाएंगे अपना जलवा…

0
49

न्यूज डेस्क/दरभंगा।

बिहार झारखंड के उभरते खिलाड़ियों में से एक सुशांत मिश्रा नामक क्रिकेटर जल्द ही आपको भारतीय क्रिकेट टीम में खेलता दिख सकता है। सपनों की उड़ान के लिए उसकी तैयारी जोरों पर है, और एक-एक कर वो अपनी मंजिल की ओर बढ़ भी रहा है। दरभंगा जिले के अलीनगर के तुमौल गांव के समीर मिश्रा के पुत्र सुशांत मिश्रा का चयन हाल ही में बीसीसीआई के अंडर 19 टीम में हुआ था साथ ही सुशांत 21 जुलाई से इंग्लैंड में खेले जाने वाले त्रिकोणीय सीरीज में भारतीय टीम का भी हिस्सा हैं सुशांत मिश्रा।

12वीं का छात्र है सुशांत
घरेलु क्रिकेट में हमेशा से है सक्रिय सुशांत व उनका परिवार रांची में रहता है। सुशांत रांची के टुदार में स्थित डीएवी स्कूल से 12वीं की पढ़ाई कर रहे है, सुशांत बोते दो वर्षों से घरेलू क्रिकेट में काफी सक्रिय है। सुशांत बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं साथ ही बाएं हाथ के बल्लेबाजी भी हैं। सुशांत का चयन अंडर 19 भारतीय टीम में उनके अच्छे प्रदर्शन की बदौलत हुआ है। एनसीए ने इस सीरीज में खिलाड़ियों के चयन के लिए छह टीम बनाई थी। हर टीम में 25-25 खिलाड़ियों को चुना गया था। इन सभी खिलाड़ियों में से 13 खिलाड़ियों का चयन हुआ जिसमें सुशांत को भी जगह मिली हैं।

त्रिकोणीय श्रृंखला में खेलेंगे सुशांत
भारत, इंग्लैंड व बांग्लादेश के बीच खेली जाएगी त्रिकोणीय सीरीज त्रिकोणीय सीरीज भारत, इंग्लैंड एवं बांग्लादेश के बीच खेला जाएगा, जिसमें भारत का पहला मैच रिववार को इंग्लैंड के साथ खेला जाएगा। इस मैच के लिए सशांत को भारतीय टीम में प्लेइंग इलेवन में जगह मिल गई है। इसकी पुष्टि सुशांत के पिता समीर मिश्रा ने की है। सुशांत के सबसे पसंदीदा खिलाड़ी भारतीय टीम के गेंदबाज बुमरा है। सुशांत भी। 140 की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं। उन्होंने बताया कि अगर इंग्लैंड में ओवरकास्ट कंडीशन रहता हैं तो उनके स्पीड में और भी इजाफा हो सकता है। सुशांत की ताकत उनको इन स्विंग बॉलिंग है जो दाहिने हाथ के बल्लेबाजों के लिए अंदर की तरफ आती है। साथ ही वे बाउंसर भी अच्छा डालते हैं।

दरभंगा समेत पूरा बिहार मना रहा है खुशी
पहली बार दरभंगा के किसी खिलाड़ी को भारतीय टीम का हिस्सा बनते देख आज पूरा दरभंगा के लोग खासकर युवा वर्ग काफी खुश नजर आ रहें हैं। युवा वर्ग को सुशांत से बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है कि दरभंगा ऐसे जिला से भी लोग क्रिकेट में अपना भविष्य बना सकतें हैं, वे भी उस मंजिल तक पहुंच सकतें है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here