CoronaVirus के खतरे को देखते हुए देश में 3 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा: पीएम। न्यूज़ ऑफ मिथिला

0
739

न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क : कोरोना वायरस लॉकडाउन के 21वें दिन देश के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए देश में 3 मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा। पीएम मोदी ने कहा अगर भारत में लॉकडाउन नहीं होता तो कोरोना को रोक पाना मुश्किल हो जाता।

हालांकि पीएम ने कहा कि 20 अप्रैल के बाद कुछ सीमित क्षेत्र में सशर्त सीमित छूट दी जा सकती है। जो क्षेत्र इस अग्निपरीक्षा में सफल होंगे, जो Hotspot में नहीं होंगे और जिनके Hotspot में बदलने की आशंका भी कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश पूरी मजबूती के साथ कोरोना वायरस महामारी से लड़ रहा है। जिस तरह से देशवासियों ने त्याग और तपस्या का परिचय दिया है, वह कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अहम है। पीएम ने हॉटस्पॉट पर पूरी तरह सतर्कता बरतने की बात कही।

पीएम मोदी ने कहा कोरोना से लड़ाई में आम लोगों का साथ जरूरी है। उन्होंने इसके लिए 7 बातों का पालन करना जरूरी बताया।
पहली बात-
अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें.
विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो,
उनकी हमें Extra Care करनी है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है.

दूसरी बात-
लॉकडाउन और Social Distancing की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह पालन करें.
घर में बने फेसकवर या मास्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें.

तीसरी बात-
अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें,
गर्म पानी, काढ़ा इनका निरंतर सेवन करें.

चौथी बात-
कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल App जरूर डाउनलोड करें.
दूसरों को भी इस App को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें.

पांचवी बात-
जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें, उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें.

छठी बात-
आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम करे लोगों के प्रति संवेदना रखें.
किसी को नौकरी से न निकालें.

सातवीं बात-
देश के कोरोना योद्धाओं, हमारे डॉक्टर-नर्सेस, सफाई कर्मी-पुलिसकर्मी का पूरा सम्मान करें

पीएम मोदी ने कोरोना संकट का किसी अन्य देशों के साथ तुलना नहीं करने की बात कही। उन्होंने कहा कि दुनिया के बड़े-बड़े सामर्थ्यवान देशों की तुलना में भारत की स्थिति काफी संभली हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here