न्यूज़ ऑफ मिथिला की मुहिम को मिला विद्यापति सेवा संस्थान का साथ,कलाकारों को राहत पैकेज देने की उठाई मांग।

0
257

कलाकारों को राहत पैकेज देने की विद्यापति सेवा संस्थान ने उठाई मांग

न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क : शासन व प्रशासन जब कोरोना महामारी के चलते देश में लॉक डाउन की घोषणा के बाद मूलभूत आवश्यकताओं के लिए संघर्ष कर रहे लोगों की हरसंभव आपूर्ति कर समस्याओं का निदान करने का प्रयास कर रही है तो, उन्हें उन सभी कलाकारों की भी सुध लेनी चाहिए, जो आत्मसम्मान के लिए अपने दर्द का इजहार किसी से नहीं कर सकते। उक्त बातें विद्यापति सेवा संस्थान के महासचिव डॉ बैद्यनाथ चौधरी बैजू ने बुधवार को मैथिली मंच के कलाकारों के लिए सरकार की ओर से राहत पैकेज की घोषणा किए जाने की मांग करते कही।

उन्होंने कहा कि विभिन्न सांस्कृतिक आयोजनों में अपनी कला के हुनर का प्रदर्शन करते हुए लोगों का मनोरंजन करने के साथ-साथ अपनी पारंपरिक विरासत को सहेजने वाले आम कलाकारों के साथ-साथ मिथिला के विभिन्न घरानों के कलाकारों की माली हालत लॉक डाउन में काफी दयनीय हो गई है। ऐसे संकट के समय में सरकार को कलाकारों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि लाॅक डाउन के कारण इन कलाकारों के पास कोई काम धाम नहीं होने के कारण उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में इन कलाकारों की मदद के लिए कला संस्कृति एवं युवा मंत्रालय से उन्होंनेे उनके लिए राहत पैकेज की घोषणा करने की मांग की।

मैथिली अकादमी के पूर्व अध्यक्ष पं कमलाकांत झा ने कहा कि लॉक डाउन में मिथिला के अनेक कलाकार फेसबुक लाइव एवं अन्य संचार माध्यमों का उपयोग कर लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं लेकिन उनकी फिक्र न तो केंद्र सरकार को है और ना ही राज्य सरकार को, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने सरकार से सुझाव के लहजे में कहा कि स्थानीय लोगों के बीच आदर्श व रोल मॉडल बन चुके इन लोक कलाकारों का उपयोग सरकार कोरोना के प्रति जागरूकता फैलाने व सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार करने में यदि करे तो सरकार का काम होने के साथ-साथ इस विपरीत परिस्थिति में कलाकारों को रोजगार भी सहज ही सुलभ हो सकेंगे।

संस्थान के सचिव एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रभारी प्रो जीवकांत मिश्र ने कहा कि कोरोना को लेकर जारी लॉक डाउन जैसे विपरीत हालत में हर किसी की खुशियों में रंग भरने वाले लोक कलाकारों की केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा सुध ना लेना गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने सरकार से कलाकारों की मदद के लिए आगे आने की अपील करते हुए कलाकरों को राहत पैकेज देने की माँग की।

ये भी पढ़ें : http://www.newsofmithila.in/lockdown-living-difficult-for-maithili-folklorists-says-hamro-sudhi-liyau-sarkar-news-of-mithila/

बता दें कि न्यूज़ ऑफ मिथिला ने स्थानीय भाषा व मिथिला मैथिली को देश दुनियाँ में गीत संगीत के माध्यम से पहचान दिलाने वाले कलाकारों के लिए आर्थिक पैकेज देने की माँग को लेकर मुहिम शुरू किया था। कलाकार के हित में उनके साथ अब संस्था भी इस मुहिम के साथ सामने आए हैं और सरकार से कलाकारों को राहत पैकेज देने की माँग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here