विधायक की अनोखी पहल,मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की बजाय सीधे पीड़ितों तक पहुँचा रहे हैं मदद। न्यूज़ ऑफ मिथिला

बिहार । दरभंगा जिले के हायाघाट विधानसभा क्षेत्र से विधायक अमरनाथ गामी ने आज पीड़ित मानवता की सेवा में एक सराहनीय पहल की। विधायक गामी ने कहा कि विधायक अपना ऐच्छिक कोष की राशि कोरोना वायरस के प्रभाव से बचने के लिए उपकरण खरीदने में नही कर सकता। उन्होंने कहा कि मेरे ऐच्छिक कोष में 31 मार्च तक मात्र 98000 रुपया बचा हुआ है। नया अनुसंशा अप्रैल माह में कारगर होगा।जरूरत रहा और सरकारी दिशा निर्देश मिला तो एक करोड़ की राशि अपने विधानसभा क्षेत्र में कोरोना के रोकथाम पे खर्च करूंगा।

जब विधायक अमरनाथ गामी से सवाल किया गया कि क्या आप अपने एक माह का तनख्वाह मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे..?
श्री गामी ने कहा कि सीधा पीड़ित को लाभ देना उचित समझे इसलिये मुख्यमंत्री राहत कोष में वेतन देना उचित नही समझे। उन्होंने कहा कि आगे देखेंगे जरूरत परेगा तब मुख्यमंत्री राहत कोष में वेतन देने का सोचूंगा।

बता दें कि श्री गामी अभी सीधा पीड़ित व्यक्ति को लाभ देने को प्राथमिकता दे रहे है।

विधायक गामी ने अपने फेसबुक वॉल पर एक पोस्ट लिखा है कि “अभी अभी मेरे विधानसभा क्षेत्र हायाघाट प्रखंड के श्रीरामपुर पोखरविरा निवासी कमलेश प्रसाद जी शिक्षक की माता जी के इलाज पैसा के कारण प्रभावित हो रहा था। लॉक डाउन के कारण वो पैसा का बंदोबस्त करने में असमर्थ थे। वो मुझसे मदद के लिए संपर्क किया। मैंने उनकी कठिनाई को देखते हुये उनके डॉक्टर के खाता में पैसा ट्रांसफर किया।

आगे श्री गामी ने लोगों से अपील करते हुए यह भी कहा है कि
आप लोगो से आग्रह है वैसे लोग जिन्हें आकस्मिक आवश्यकता है उन्हें खुद मदद करे अगर आपसे सम्भव नही हो तो मुझे बतावें हम मदद करेंगे।
सोशल साइट्स पर विधायक अमरनाथ गामी के अनोखे पहल की लोग सराहना कर रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *