दरभंगा: बहादुरपुर थाना क्षेत्र में नही थम रहा चोरों का आतंक,फिर एक पत्रकार के घर चोरी के प्रयास। न्यूज़ ऑफ मिथिला

दरभंगा : जिले के बहादुरपुर थानाक्षेत्र एवं प्रखण्ड क्षेत्र में चोरों का आतंक इनदिनों सर चढ़ कर नाच रहा है। वाबजूद इसके पुलिस के द्वारा इस दिशा में खास सक्रियता नही दिख रही है। विशेष रूप से इन दिनों मुख्यालय से सटे बहादुरपुर थानाक्षेत्र एवं आसपास में तो चोर पूरी तरह निश्चिंतता के साथ अपने बेखौफ होने का प्रमाण दे रहे हैं। दुकानदार, पत्रकार और यहाँ तक कि भगवान के मंदिर को भी नही छोड़ रहे हैं।

हाल में ही में स्कोर्पियो की चोरी, दुकान में चोरी आदि के साथ साथ पत्रकार अभिषेक कुमार के बहादुरपुर स्थित नवनिर्मित मकान से मोटर की चोरी करने बाद सोमवार की रात चट्टी चौक स्थित चैती दुर्गामन्दिर परिसर अवस्थित हनुमान जी के प्रतिमा से मुकुट चोरी कर लिया। इनदिनों हर आम और खास यहाँ तक कि भगवान को भी चोरो ने नही छोड़ा। बस बचे हुए सुरक्षित लग रहे हैं तो केवल पुलिस वाले, जिनके घरो में चोरी की खबर शायद ही दिखती हो। मंगलवार की रात फिर एक पत्रकार के घर चोरी के प्रयास का मामला सामने आया है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए बहादुरपुर थानाक्षेत्र के कबिलपुर निवासी पत्रकार तुलसी झा ने बताया कि रात को करीब 3 बजे के आसपास उनके घर का दरवाजा किसी ने खोल लिया। बल्ब बन्द थे, इसलिए उक्त चोर को कुछ दिखाई नही पड़ा। परन्तु आहट से उनकी नींद खुल गयी। उनके जगते ही चोर भाग।
पीड़ित श्री झा ने बताया कि इससे पूर्व भी उनके घर से लैपटॉप-मोबाइल आदि की चोरी हो चुकी है। चोर आसपास के ही लगते हैं। श्री झा ने बताया कि इस सम्बन्ध में वे थाना को आवेदन देने जा रहे हैं।

बताते चलें कि इनदिनों बहादुरपुर थानाक्षेत्र में शायद ही कोई दिन ऐसा गुजरता है जिस दिन चोरो की सक्रियता सामने न आती हो। परंतु लगातार बढ़ती ऐसी घटनाओं और मुख्यालय से सटे इलाका होने के वाबजूद वरीय अधिकारियों का ध्यान इस ओर न जाना अपनेआप में आश्चर्यजनक है। स्थानीय लोगो की माने तो पुलिस की गश्ती गांव घर की तरफ शायद ही होती है। पुलिस की गश्ती गाड़ी थाने से निकलते ही सीधे मुख्य सड़क का रास्ता पकड़ कर एकमी तरफ चली जाती है और वही गाड़ी लगाकर अक्सर गश्ती दल आने जाने वाले वाहनों पर अपनी सक्रियता का परिचय देते हैं।
हालांकि गश्ती के गांवों में घूमने के दावे तो थानाध्यक्ष भी करते हैं। परंतु दावे की सच्चाई ठंढ के समय मे चोरी बढ़ने पर गश्ती जीप में लगे जीपीएस के पिछले दिनों के रिकॉर्ड के माध्यम से वरीय अधिकारी देख सकते हैं।

अब देखने वाली बात होगी कि थाना द्वारा चोरो के सामने समर्पण की स्थिति बनने पर वरीय अधिकारी भी कोई ठोस कदम उठाते हैं या यूं ही चोरो को पुलिस के घर चोरी नही करने के इनाम में शांति बनाये रखते हैं।

admin: