टिकट कटने से नाराज दिनेश सिंह के समर्थकों ने किया हंगामा, लगाए नारे- “मोदीजी के साथ है, मनोज के खिलाफ है”। न्यूज़ ऑफ मिथिला

नई दिल्ली : दिल्ली विधानसभा चुनाव में टिकट के ऐलान के बाद से बीजेपी में विरोध के स्वर सुनाई देने लगे है. आज पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर से दिनेश प्रताप सिंह को टिकट ना दिए जाने पर उनके समर्थकों ने दिल्ली बीजेपी दफ्तर के बाहर हंगामा किया. दिनेश प्रताप सिंह इस समय दिल्ली बीजेपी में पूर्वांचल मोर्चा के प्रभारी हैं. बीजेपी ने लक्ष्मी नगर से अभय वर्मा को उम्मीदवार घोषित किया है. इसी को लेकर समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया.

दिनेश प्रताप सिंह को टिकट ना दिए जाने से नाराज़ उनके समर्थकों ने प्रदेश कार्यालय के बाहर प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और प्रभारियों के खिलाफ प्रदर्शन किया. विरोध कर रहे समर्थकों का कहना था कि अभय वर्मा को उम्मीदवार बनाया है वो 2013 भी चुनाव हार चुके है और तीसरे नंबर पर रहे थे.

वहीं अलग चुनाव लडने के या पार्टी छोड़ने के सवाल पर दिनेश प्रताप ने कहा “में 25 साल से पार्टी में हूं, मैं भारतीय जनता पार्टी के साथ था साथ हूं और साथ ही रहूंगा”

इस विरोध प्रदर्शन पर प्रदेश बीजेपी के मीडिया प्रभारी अशोक गोयल का कहना है, “ये यह सब हमारे परिवार के सदस्य हैं और परिवार का अंग रहेंगे और सभी को अपना मत रखने का अधिकार है और पार्टी के वरिष्ठ नेता सब इनसे बात करेंगे और सब मिलकर काम करेंगे.”

बीजेपी ने अब तक 57 टिकट का ऐलान किया है. दिल्ली विधान सभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को मतदान होगा वहीं नतीजे 11 फरवरी को आएंगे.

विरोध करने आए इन कार्यकर्ताओं ने हाथो मौजूद प्लेकार्ड में सिर्फ प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के खिलाफ नारे लिखे थे. जिस पर लिखा था “मोदीजी के साथ है, मनोज के खिलाफ है”. कार्यकर्ताओं का कहना है कि साल 2015 में बीजेपी ने बीबी त्यागी को उम्मीदवार बनाया था वो कम वोटों से चुनाव हारे थे बावजूद उसके उन्हें नहीं चुना ना ही नए चेहरे के रूप में कई साल से काम कर रहे दिनेश प्रताप को चुना.

वहीं, इस मामले पर दिनेश प्रताप सिंह का कहना है, “ये कार्यकताओं कि भावना है, में 25 साल से पार्टी में हूं अलग पद पर रहा हूं काम किया है इसलिए उनका कहना है कि टिकट मिलना चाहिए था. लेकिन मेरी बात हुई शीर्ष नेतृत्व से और अपने कार्यकर्ताओं से. मैंने उन्हें समझाया है.”

admin: