बेखौफ हुए अपराधी: पेट्रोल पम्प मालिक की गोली मारकर हत्या, 6 लाख की लूट

दिनदहाड़े पंप मालिक की हत्या से आक्रोशित लोगों ने थाने के बाहर की आगजनी

पेट्रोल पम्प मालिक की गोली मारकर हत्या, 6 लाख की लूट

गोली मारने की घटना सकरी थाना क्षेत्र का

कर्त्तव्यहीनता के आरोप में एसएसपी ने रैयाम थानाध्यक्ष को किया निलंबित

दरभंगा/मधुबनी : दरभंगा और मधुबनी की सीमा पर सकरी थाना क्षेत्र के रैयाम बलिया गांव स्थित सुनैना किसान सेवा केंद्र पेट्रोल पंप के मालिक धनंजय झा को अज्ञात अपराधियों ने दिन दहाड़े गोली मार कर हत्या कर दिया व करीब छह लाख रुपये लूट लिये. जिस वक्त यह घटना घटी पेट्रोल पंप मालिक धनंजय झा पेट्रोल पंप से रैयाम बाजार स्थित सेंट्रल बैंक की शाखा में रुपये जमा करने जा रहे थे. घटना पेट्रोल पंप व रैयाम थाना के बीच में घटी है. साथ ही घटनास्थल से रैयाम थाना की दूरी महज दो मिनट का ही है.

घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी आसानी से फरार हो गये. हालांकि, घटना को अंजाम देने वाले कितने लोग थे और वे किस वाहन से आये थे इसका सही सही जानकारी किसी के पास नहीं था. घटनास्थल के समीप के दुकानदारों व स्थानीय लोगों का कहना था कि किसी ने गोली की आवाज नहीं सुनी. इससे आशंका जतायी जा रही है कि अपराधी साईलेंसर लगे पिस्टल से गोली चलाया है. जिस जगह पर यह घटना हुइ उस जगह पर पिस्टल का लोडेड मैगनिज गिरा है.

इधर, घटना से आक्रोशित लोगों ने रैयाम थाना पर धावा बोल दिया. सैकड़ों की संख्या में आक्रोशित लोगों ने थाना पर रोड़ेवाजी किया. थाना के वाहनों को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया व सामान को तोड़ कर आग के हवाले कर दिया. करीब एक घंटे तक लोग थाना पर हंगामा करते रहे और पुलिस थाना में छिपी रही. वहीं, पेट्रोल पंप मालिक की हत्या की सूचना मिलने पर घटना स्थल पर पहुंची मधुबनी सदर डीएसपी कामिनी बाला व अन्य थाना पुलिस को आक्रोशित लोगो ने पेट्रोल पंप परिसर में ही गेट का ताला लगा कर घेराव कर दिया. करीब चार घंटे तक डीएसपी व अन्य पुलिस के जवान पेट्रोल पंप परिसर में फंसे रहे.

जानकारी के अनुसार बीते शुक्रवार के बाद से तीन दिन तक के पेट्रोल पंप पर हुई बिक्री के पैसे लेकर दिन में करीब 11 बजकर 45 मिनट पर पेट्रोल पंप मालिक धनंजय झा अपने घर से छह लाख रुपये लेकर अपने बाइक से रैयाम स्थित सेंट्रल बैंक की शाखा में जमा करने निकले. पैसे एक बैग में लिया था. पेट्रोल पंप से करीब दो मिनट की दूरी तय की होगी कि अज्ञात अपराधियों ने उन्हें गोली मार दिया और पैसे लेकर भाग निकले. कुछ लोगों का कहना था कि एक अपाची बाइक पर तीन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है.

गोली लगने के बाद धनंजय का बाइक गिर गया और वे भागने की कोशिश की. पर कुछ ही दूर जाने पर वे गिर गये. जिस जगह पर उनका बाइक गिरा था, वहीं पर अपराधियों के पिस्टल का लोडेड मैगजिन भी था. लोगों ने धनंजय झा को सड़क पर गिरे देखा तो यह आशंका हुइ कि दुर्घटना हो गयी है. लोगों ने तत्काल इसकी सूचना धनंजय झा की पत्नी को दिया. सूचना मिलने पर धनंजय झा की पत्नी मौके पर पहुंची और धनंजय को प्राइवेट नर्सिम होम लाया. जहां पर चिकित्सकों ने धनंजय को मृत घोषित कर दिया. इसके बाद लोगों ने शव को वापस रैयाम बलिया स्थित पेट्रोल पंप पर रखा और सड़क जाम कर दिया.

आक्रोशित लोग पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे. लोगों का आक्रोश रैयाम थाना पुलिस के प्रति अधिक देखी गयी. लोगों का कहना था कि रैयाम थाना पुलिस मात्र दो मिनट की दूरी पर है. कई जगहों पर सीसीटीवी कैमरा भी लगा हुआ है. लोगों ने रैयाम थाना पुलिस को सूचना दिया, यदि रैयाम थाना पुलिस नाकेबंदी की पहल की होती तो अपराधी पकड़े जाते.

आक्रोशित लोगों ने रैयाम थाना पर हमला बोल दिया. थाना प्रभारी के आवास पर भी रोड़ेबाजी किया. मार्शल, जीप को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर पलट दिया. इसके बाद थाना प्रभारी के आवास में घुस कर एक बाइक को बाहर निकाला व उसको भी क्षतिग्रस्त कर दिया. थाना के कुर्सी, टेबुल व अन्य सामान को जला दिया. बाद में घटना की सूचना मिलने पर दरभंगा से भारी संख्या में पुलिस के जवान पहुंचे और उपद्रवी को खोजने लगे.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *