दुष्कर्मी के खिलाफ चलेगा स्पीडी ट्रायल : सिटी एसपी। न्यूज़ ऑफ मिथिला

दरभंगा : सदर थाना क्षेत्र में शुक्रवार की देर रात पांच वर्षीय बच्ची को अगवा कर दुष्कर्म करने के मामले में पकड़ाए आरोपित के खिलाफ पुलिस स्पीडी ट्रायल चलाएगी। उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलाने में पुलिस जुट गई है। गिरफ्त में आए सदर थाना क्षेत्र के भगवानपुर गांव निवासी तेतर सहनी के कपड़े को पुलिस ने जब्त कर लिया है। उसके कपड़े को एफएसएल जांच के लिए भेजा जाएगा। बताया जाता है कि उसके कपड़े में काफी खून के निशान पाए गए है। आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा मिले, इसे लेकर पुलिस हर पहलुओं को ध्यान में रखकर साक्ष्य जुटाने में लगी है। पुलिस ने डीएमसीएच में उसकी मेडिकल जांच भी कराई है। नगर एसपी योगेंद्र कुमार ने बताया कि एक-दो दिनों के अंदर न्यायालय में आरोपित के खिलाफ आरोप पत्र समर्पित कर दिया जाएगा। साथ स्पीडी ट्रायल चलाकर उसे कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की बात कही। इधर, डीएमसीएच में भर्ती पीड़िता बच्ची को देखने के लिए शुक्रवार की रात से ही अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों का तांता लगा रहा। सभी आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की बात कह रहे थे। एसएसपी बाबू राम, नगर एसपी योगेंद्र कुमार और सदर एसडीपीओ अनोज कुमार सहित कई पुलिस पदाधिकारी डीएमसीएच में देर रात तक डटे रहे। साथ ही एक टीम आरोपित को पकड़ने के लिए छापेमारी में जुटी थी। हालांकि, देर रात में उसे घर से दबोच लिया गया। बता दें कि खरूआ गांव स्थित भगवानपुर जाने वाली सड़क किनारे चार-पांच बच्ची अलाव ताप रही थी। इसी दौरान भगवानपुर की ओर से एक ई-रिक्शा चालक तेतर सहनी पहुंचा और अलावा के पास बच्ची को देखकर अपनी गाड़ी रोक दी, जहां दो बच्ची ई-रिक्शा पर चढ़ गई। चालक मौका देख गाड़ी लेकर खरूआ की ओर भाग गया। तब तक शेष बची बच्चियों ने अपने परिजन को जाकर घटना की जानकारी दी। इसके बाद सभी लोग ई-रिक्शा की खोज में जुट गए। इस क्रम में खरुआ पथ में एक बच्ची रोते हुए मिली और उसने बताया कि दूसरे को लेकर भाग गया है। आगे जाने पर सड़क किनारे ई-रिक्शा खड़ी मिली। आस-पास में खोजने पर झाड़ी से बच्ची को खून से लथपथ स्थिति में पाया गया। तब तक दुष्कर्मी वहां से फरार हो चुका था। पुलिस जब्त बिना नंबर की नई ई-रिक्शा के माध्यम से आरोपित के घर तक पहुंची और उसे दबोच लिया।

आरोपित की आदत से परेशान थी पत्नी : दुष्कर्म आरोपित तेतर सहनी शुरू से ही बदमाशा था। वह हमेशा अपनी पत्नी और दोनों बच्चों के साथ मारपीट करता था। आदत में सुधार नहीं होने के कारण पत्नी अपने पुत्र और पुत्री को लेकर मायके चली गई। लोगों ने बताया कि आरोपित का चाल-चलन समाज में सही नहीं था। यही कारण था कि गांव के लोग भी दुष्कर्मी को फांसी की सजा दिलाने की मांग कर रहे थे। मासूम बच्ची के साथ किए गए कुकृत्य को लेकर गांव के लोग भी शर्मींदा हैं। कहते हैं कि इसने गांव के नाम को भी खराब कर दिया।

हर तरफ होती रही फांसी की मांग :

आरोपित को फांसी की सजा हो इसे लेकर शनिवार को पूरे दिन लोग जगह-जगह मांग करते नजर आए। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा, भाजपा जिलाध्यक्ष हरि सहनी, हम के आरके दत्ता, माले, एमएसयू, जाप सहित कई पार्टी के नेता डीएमसीएच पहुंचकर पीड़िता का हाल जाना। सभी प्रशासन से आरोपित को फांसी की सजा दिलाने की मांग की।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *