राजकीय सम्मान के साथ पूर्व सीएम डॉ.जगन्नाथ मिश्र पंचतत्व में विलीन। News of Mithila

न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया। बुधवार को उनके पैतृक गांव वीरपुर अनुमंडल के बलुआ बाजार में राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। डॉ. मिश्र के बड़े बेटे और केन्द्रीय गृह विभाग में कार्यरत मुख्य वित्तीय सलाहकार संजीव मिश्रा ने वैदिक मंत्रोच्चारण और जवानों की सलामी के बीच 3 बजकर 15 मिनट पर उन्हें मुखाग्नि दी।

मुखाग्नि से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी सहित अन्य मंत्री, सांसद और विधायकों ने पुष्पांजलि देकर दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. मिश्र को श्रद्धांजलि अर्पित की। उधर, पूर्व मुख्यमंत्री के अंत्येष्टि को लेकर काफी संख्या में लोग जुटे हुए थे। तीखी धूप के बावजूद सुबह से ही लोग अपने दिवंगत नेता के अंतिम दर्शन को पहुंचे थे।

पार्थिव शरीर के पहुंचते ही गमगीन हुआ माहौल :
पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. जगन्नाथ मिश्र का पार्थिव शरीर पटना से सड़क मार्ग के रास्ते दोपहर लगभग 1 बजकर 3 मिनट पर बलुआ बाजार पहुंचा। एम्बुलेंस के पहुंचते ही वहां का माहौल गमगीन हो गया। ‘डॉक्टर साहब अमर रहे, जगन्नाथ बाबू अमर रहे’ के नारे गूंजने लगे।

सुरक्षा के थे पुख्ता इंतजाम : पूर्व मुख्यमंत्री की अंत्येष्ठी को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। खासकर मुख्यमंत्री सहित कई वीआईपी के आगमन को लेकर प्रशासन और पुलिस सजग रही। कोसी रेंज के डीआईजी सुरेश चौधरी खुद सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग कर रहे थे।

admin: