मिथिला के बाढ़ पीड़ितों के सहारा बने समाजसेवी रजनीकांत पाठक, घूम-घूम कर बांट रहे राहत। न्यूज़ ऑफ मिथिला

न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क । बिहार का मिथिला क्षेत्र भयावह बाढ़ के चपेट में है। प्रदेश के 12 जिलों के सैकड़ों प्रखंड में लगभग 60 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं। लाखों लोग विस्थापित हो चुके हैं, उनका घर धवस्त हो गया है, जान-माल की अपूरणीय क्षति हुई है।
इस विकट परिस्थिति को देखते हुए समाजसेवी रजनीकांत पाठक और उनकी टीम बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं और पीड़ितों को यथासंभव मदद पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं।

इस विपदा की घड़ी में अनेकों संगठन और व्यक्ति अपने तरफ और लोगों के सहयोग से राहत-बचाव के लिए प्रयास कर रहे हैं। उसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सामजसेवी और फिल्म निर्मता रजनीकांत पाठक भी पीड़ितों का दर्द बांटने का प्रयास कर रहे हैं। वो अपने अन्य साथियों के साथ लगातर बाढ़ प्रभवित क्षेत्रों का दौरा कर रहे हैं और पीड़ित लोगों के लिए खाने-पीने का व्यवस्था कर रहे हैं। इसी क्रम में गुरुवार उनकी टीम ने मधुबनी के खुटौना प्रखण्ड के भुतही बलान के पास विस्थापित लोगों के बीच फ़ूड पैकेट बांटें।

बता दें कि भुतही बलान के किनारे बसे परसाहि पंचायत पश्चिमी के दौलतपुर,राजपुर के बीच 1 हजार फीट बांध टूट गया था। जिसके कारण जान-माल का भारी नुकसान हुआ था।

श्री पाठक ने बताया कि इस बार की बाढ़ में सम्पत्ति की जबरदस्त क्षति हुई है। सैकड़ो मकान बह गए है। इंसान तो दूर बल्कि भगवान का घर मंदिर मस्जिद पानी के कटाव में बह गया है। बहुत ही भयावह स्थिति है। सरकारी राहत कैम्प सिर्फ NH पर ही लगे हैं। लेकिन बहुत लोग गांव में फंसे हैं। हमने उनतक पहुंचकर उन्हें राहत सामग्री पहुंचाया है।
शुक्रवार को दरभंगा के बेनीपुर प्रखण्ड के पंचायतों का दौरा कर रहे हैं । विकास अग्रवाल द्वारा 500 लोगो के लिए चुरा,शक्कर,बिस्किट,नमकीन व 500 बोतल बन्द पानी दिया गया है।


रजनीकांत पाठक के साथ पूर्व विधान पार्षद भूमिपाल राय,मनोज कुमार,विक्की झा,परमानंद,मुकेश राय,सतीश,रजीक अहमद,जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष खुटौना देवदत्त, बालकृष्ण सिंह आदि लोगों ने दिनभर क्षेत्र में घूम-घूम कर लोगों का दुख-दर्द बांटा और प्रभावित परिवारों के बीच राहत सामग्री का वितरण किया।

admin: