समतीपुर: बैंक लूटने के साजिस को पुलिस ने किया नाकामयाब, लूटेरे को ऑन द स्पॉट दबोचा…

न्यूज़ डेस्क।
समस्तीपुर।

समस्तीपुर में सुधा वितरक से लूट के बाद लूटेरों की नजर बैंक व ज्वैलरटी दुकानो पर पर थी, लेकिन पुलिस ने इन लूटेरों के प्लान को ध्वस्त कर दिया। बता दूँ की लूटेरे ने बैंक और ज्वेलरी दूकान को लूटने पहुंचे हीं थें की पुलिस ने पहले हीं दबोच लिया। वैज्ञानिक पद्धति से अपराधियों की गतिविधियों पर निगरानी कर रही पुलिस ने दोनों साजिशों को विफल कर दिया। साथ ही अपराधियों के पास से लोडेड पिस्टल आदि बरामद कर लिया। मुफस्सिल थाना में रविवार को प्रेस वार्ता करते हुए एसपी विकास बर्मन ने बताया कि अपराधियों ने हरपुर एलौथ स्थित बैंक व मोहनपुर रोड स्थित एक ज्वेलरी दूकान में लूट की साजिश रची थी। इसकी सूचना पुलिस को मिली। अपराधी 20 जून को दोनों स्थानों पर रेकी कर वापस चले गए।

गुप्त सुचना के आधार पर पुलिस ने बिछाई जाल…
इसकी सूचना मिलते ही पुलिस नेे वैज्ञानिक तरीके से इसकी निगरानी शुरू कर दी। शनिवार को अपराधी लूट की नीयत से जैसे ही शहर में दाखिल हुए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि तीन फरार हो गए। सभी बाइक से पहुंचे थे। फरार सभी आरोपितों की पहचान कर ली गयी है। गिरफ्तार अपराधियों में मुफस्सिल थाने के बांदे के सुमित कुमार व रहीमपुर रुदौली के राहुल कुमार शामिल हैं। इसके पास से एक देसी पिस्टल व दो गोली, एक बाइक व दो मोबाइल बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि इनके पास से एक मोबाइल नंबर भी मिला है, जिसका उपयोग घटना की प्लानिंग में उपयोग किया जा रहा था। लेकिन समस्तीपुर पुलिस ने इस घटना को अंजाम देने से पहले ही रोक लिया।

उन्होंने बताया कि लूट की साजिश हाजीपुर जेल में बंद अपराधी पंकज कुमार ने रची थी। पंकज मुफस्सिल थाने के रहीपुर रुदौली का रहने वाला है। गिरोह में हाजीपुर व समस्तीपुर के अपराधी शामिल थे। एसपी ने बताया कि डीएसपी प्रीतिश कुमार के नेतृत्व में मुफस्सिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्या, दारोगा विशाल कुमार, शाहबाज आलम, जमादार परशुराम सिंह एवं डीआईयू की टीम शामिल थी।

admin: