DM के निर्देश पर अधिकारियों की टीम ने प्रत्येक प्रखंडों में लिया नल-जल योजना का जायजा।

दरभंगा। जिलाधिकारी के निर्देश पर विभिन्न प्रखंडों में वरीय पदाधिकारी के नेतृत्व में नल-जल योजना के क्रियान्वयन की पड़ताल शनिवार को की गई। विभिन्न प्रखंडों में हुए स्थल निरीक्षण में योजना की पोल खुल गई। कागजी रिपोर्ट के इतर ऑन द स्पॉट योजना की हालत बेहद खराब निकली।

तारडीह : प्रखंड के वरीय पदाधिकारी संजय कुमार देव के नेतृत्व में गठित टीम ने योजना का जायजा लिया। पदाधिकारी ने कहा की योजना के प्रथम वर्ष के चयन में 76 वार्डों में योजना का पूर्ण प्रतिवेदित किया गया था, इसमें से 50 वार्डों में कार्य संतोषप्रद पाया गया, जबकि अन्य 26 वार्डों में जलापूर्ति बहाल है, लेकिन कार्य में त्रुटि पाई गई।

मनीगाछी : 17 अधिकारियों ने प्रखंड के 17 पंचायतों मे जाकर नल-जल योजनाओं की जांच की। बीडीओ मनोज कुमार राय ने बताया कि अब तक 22 में से 17 पंचायतों में कुल 72 वार्डों में योजना का काम पूरा हो चुका है। 54 वार्डों में पानी सप्लाई की जा रही है। शेष 18 वार्डों में भी दो दिनों के अंदर पानी सप्लाई शुरू कर दिया जाएगा।

सिंहवाड़ा : डीपीओ रामाश्रय प्रसाद ने योजना का जगह-जगह निरीक्षण कर प्रखंड कार्यालय पर समीक्षात्मक बैठक की। अरई बिरदीपुर पंचायत के मुखिया लतिफूर रहमान ने बताया कि पंचायत के कुल 16 में 8 वार्डों में कार्य संपन्न हो गया है। शेष 8 वार्ड मे कार्य का स्ट्क्चर तैयार है।

हनुमाननगर : डीडीसी डॉ. कारी प्रसाद महतो ने शनिवार को डीलाही पंचायत का भ्रमणकर योजनाओं का हाल जाना। गांव के वार्ड 8, 11 और 12 में जांच के क्रम में डीडीसी ने पंप हाउस के सबमर्सिबल पंप के मोटर को ऑन कर जलापूर्ति को देखा। प्रधानमंत्री आवास योजना की भी जांच की।

कुशेश्वरस्थान पूर्वी : लोक शिकायत पदाधिकारी सह वरीय पदाधिकारी नदीमुल गफ्फार सिद्दिकी ने कुशेश्वरस्थान दक्षिणी पंचायत में नल-जल योजना का हाल जाना। वार्ड 3, 6 व 10 में योजना पूर्ण होने की जानकारी दी गई। वार्ड 5 एवं 8 में बिजली कनेक्शन नहीं मिलने से कार्य बाधित है। वार्ड दो में राशि देने के बाद भी कार्य शुरू नहीं किया गया। बताया कि वार्ड 3 में पानी की गुणवत्ता बेहद ही खराब एवं निराशाजनक है। बीएओ संजय कुमार सिन्हा ने भिडुआ पंचायत के 13 में 10 वार्डो की जांच की। एक भी वार्ड में काम पूरा नहीं मिला।

हायाघाट : जिला योजना पदाधिकारी सह प्रखंड प्रभारी पदाधिकारी कामेश्वर प्रसाद ने मल्हीपट्टी दक्षिणी पंचायत के पांच वार्डों में जायजा लिया। बीडीओ कार्यालय में योजना की समीक्षा की।

कमतौल : लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सह अपर समाहर्ता राजीव रंजन प्रभाकर के नेतृत्व में अधिकारियों की टीम ने क्षेत्र के अहियारी उत्तरी पंचायत में नल-जल योजना को परखा। अहिल्यास्थान पहुंचकर पंचायत के कुल 10 वार्डो में से 9 का स्थलीय जायजा लिया। वार्ड 8 में पाइप से पानी का रिसाव पाया गया। वार्ड 7 को छोड़ बारी-बारी से वार्ड 8, 6, 5 व 4 के अलावे वार्ड 1, 2 व 3 का जायजा लिया।

अलीनगर : पांच टीमों ने विभिन्न पंचायतों में पहुंच कर योजना की पड़ताल की। प्रखंड के वरीय पदाधिकारी सह डीसीएलआर चंदन कुमार ने नरमा नवानगर पंचायत के सभी सत्रह वार्डों को देखा तो उन्हें 16 वार्डों में कार्य पूर्ण एवं पानी आपूर्ति की जानकारी दी गई। वार्ड दो में कार्य अधूरा होने की बात कही गई। बीडीओ रितेश कुमार लहटा, तुमौल, सुहथ पंचायत गए तो वहां की स्थिति बेहद चिताजनक मिली। एक भी वार्ड में जलापूर्ति नहीं मिला। गरौल पंचायत के दो वार्डों में पानी चालू होने की बात बताई गई, लेकिन कई जगहों पर स्टैंड पोस्ट खराब मिले।

बहेड़ी : हरहचा पंचायत में मात्र 4 वार्ड, पघारी पंचायत में 3 वार्ड समेत अन्य पंचायतों में भी आधा-अधूरा काम पाया गया। 27 पंचायत में 16 टीमें गठित की गई थी।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *