अब सारी बाधाएं दूर..,2 महीने में शुरू होगी दरभंगा से विमान सेवा

दरभंगा/पटना । दो महीनों के अंदर राज्य के दरभंगा से विमान सेवाएं शुरू होने की पूरी संभावना है। सारी बाधाएं दूर कर ली गई हैं। संबंधित एजेंसी को निर्धारित अवधि में काम पूरा कर लेने को कहा गया है। एयरपोर्ट अथॉरिटी लगातार मॉनीटरिग कर रही है। बिहार चैंबर ऑफ कॉमर्स के साथ सोमवार को हुई बैठक में पटना एयरपोर्ट के निदेशक बीसीएच नेगी ने इस आशय की जानकारी दी।

चैंबर के अध्यक्ष पीके अग्रवाल ने दरभंगा के साथ ही मुजफ्फरपुर, पूर्णिया, भागलपुर, समस्तीपुर व रक्सौल से अन्य शहरों के लिए विमान परिचालन शुरू करने की मांग की। पटना से गया की कनेक्टिविटी की भी मांग की गई। पटना से काठमांडू, भूटान व खाड़ी देशों के लिए अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू करने पर चर्चा की गई।
निदेशक ने कहा कि निजी विमान कंपनियों से बात कर पटना से काठमांडू व भूटान के लिए विमान सेवा तो शुरू की जा सकती है परंतु पटना से अन्य बड़े देशों के लिए अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा नहीं शुरू की जा सकती है। पटना एयरपोर्ट का रनवे अंतरराष्ट्रीय विमानों के लिए उपयुक्त नहीं है। इस रनवे को अधिकतम 137 मीटर तक और बढ़ाया जा सकता है इसके लिए भूमि अधिग्रहण बाधा बन रहा है। बिहटा में अगर सरकार जमीन देती है तो वहां से अंतरराष्ट्रीय विमान सेवा की शुरुआत हो सकती है। निदेशक ने कहा कि 2022 तक पटना का नया एयरपोर्ट टर्मिनल भवन एवं बिहटा एयरपोर्ट बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बाद 90 लाख यात्रियों के आने-जाने की व्यवस्था शुरू हो जाएगी। अभी पटना एयरपोर्ट से सालाना 32 लाख से अधिक यात्री आ-जा रहे हैं। निदेशक ने कहा कि निजी विमान कंपनियों की वजन नापने वाली मशीन की जांच महीने में एक बार की जाएगी।

अगले छह से आठ माह के दौरान एयरपोर्ट के वर्तमान भवन का जीर्णोद्धार कार्य पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद पटना एयरपोर्ट पर दो एंट्री गेट शुरू हो जाएंगे। चेक इन काउंटर्स के साथ-साथ फ्रिस्किंग काउंटर्स भी बढ़ जाएंगे। इतना ही नहीं विजिबिलिटी बढ़ाने के लिए कैटेगरी-1 सिस्टम शुरू किया जा रहा है। अब 800 मीटर तक विजिबिलिटी रहने पर भी विमान की लैंडिंग संभव हो सकेगी। इसके कारण आने वाले ठंड के मौसम में यात्रियों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्होंने चैंबर को आश्वासन देते हुए कहा कि शीघ्र ही वरिष्ठ नागरिकों एवं दिव्यांगों के लिए अलग से बैठने की व्यवस्था होगी। एयरपोर्ट परिसर में खाने-पीने के लिए शीघ्र ही बेहतर रेस्तरां की शुरुआत होगी। चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा फ्यूल पर 29 फीसद वैट लिए जाने को अन्य राज्यों की तरह 5 फीसद करने के लिए राज्य सरकार पर दबाव बनाने का आश्वासन दिया गया।

: खास बातें :

– पटना एयरपोर्ट पर वरिष्ठ नागरिकों व दिव्यांगों के बैठने की होगी अलग व्यवस्था

– निजी विमान कंपनियों के वजन नापने की मशीन की होगी मासिक जांच

– अगले छह माह के अंदर एयरपोर्ट पर शुरू होगा दूसरा प्रवेश द्वार

– निर्धारित वजन से 1 किलो बढ़ने पर नहीं लगेगा जुर्माना

admin: