दरभंगा से ही चुनाव लड़ेंगे कीर्ति झा आज़ाद, इस सीट पर मुकेश साहनी का कोई अस्तित्व नही!

न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क । दरभंगा लोकसभा सीट से कीर्ति झा आज़ाद ही कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे. हालाँकि इस सीट पर मुकेश साहनी अपनी ताल ठोक रहे हैं. साहनी कुछ समय पहले ही राजद व कांग्रेस के महागठबंधन में शामिल हुए थे. लेकिन जातीय समीकरण के हिसाब से उन्हें दरभंगा की जगह मुजफ्फरपुर भेजा जा सकता है.जातीय समीकरण के आधार पर दरभंगा लोकसभा सीट से मुकेश साहनी का अस्तित्व खतरे में है . दरभंगा लोकसभा सीट कीर्ति झा आज़ाद के लिए सुरक्षित माना जाता है.

दरभंगा लोकसभा क्षेत्र में विधानसभा की 6 सीटें आती हैं. दरभंगा नगर, बहादुरपुर, दरभंगा ग्रामीण, अलीनगर, बेनीपुर और गौड़ा बौराम विधानसभा को मिलाकर दरभंगा लोकसभा क्षेत्र का गठन हुआ है. माना जाता है कि यहां यादव, मुस्लिम और ब्राह्मण जाति के वोटर निर्णायक होते हैं. इस सीट पर मुसलमान वोटरों की संख्या साढ़े तीन लाख है. जबकि यादव और ब्राह्मण जाति के वोटरों की संख्या तीन-तीन लाख के करीब है. सवर्ण जातियों में राजपूत और भूमिहार वोटरों की आबादी एक-एक लाख है.

आजाद के कांग्रेस में शामिल होने के बाद से मिथिलांचल में राजनीतिक सरगर्मी तेज़ है। महागठबंधन में दरभंगा से उम्मीदवारी को लेकर मामला उलझता जा रहा है. बीच में मुकेश सहनी की दावेदारी की भी चर्चा थी लेक़िन आजाद के कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा और क्षेत्र की दावेदारी से महागठबंधन के कई नेताओं का चुनावी गणित गड़बड़ा गया है और मुकेश साहनी कीर्ति झा आज़ाद के सामने बहुत ही कमजोर कंडिडेट आंके जा रहे हैं.

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *