अब DMCH को अपग्रेड कर ही बनेगा AIIMS,दूसरे एम्स को लेकर जारी सस्पेंस खत्म

पटना । बिहार में दूसरे एम्स के स्थान की गुत्थी सुलझ गयी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सुझाव दिया कि उत्तर बिहार में स्थित दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल को ही एम्स बना दिया जाये. इसके लिए नीति में थोड़ा परिवर्तन करना होगा. मुख्यमंत्री के इस सुझाव को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने इशारों में अपनी सहमति दे दी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएमसीएच पांच साल में विश्व स्तर का 5400 बेडों का अस्पताल तीन चरणों में तैयार होगा. इसके निर्माण के लिए 5500 करोड़ की योजना स्वीकृत की गयी है. यहां पर डॉक्टर, नर्स, छात्र व कर्मियों के रहने के लिए आवास का निर्माण होगा. इसे गंगा लिंक व गांधी मैदान से एलिवेटेड सड़क से जोड़ा जायेगा.

सीएम ने आयुष्मान भारत योजना के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा राज्य के पांच मेडिकल कॉलेज पटना, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, भागलपुर व गया में सुपर स्पेशियलिटी ब्लाक बनाया जा रहा है. इसके अलावा राज्य में आठ नये मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं. इनमें पूर्णिया, सहरसा, समस्तीपुर, सीतामढ़ी, मधुबनी, जमुई और सीवान में 250-250 करोड़ की लागत से मेडिकल कॉलेज का निर्माण कराया जा रहा है. सभी मेडिकल कॉलेज में नर्सिंग कॉलेज भी स्थापित किया जायेगा. उन्होंने बताया कि देश में 22 नये एम्स खोले जा रहे हैं. वे डीएमसीएच में एम्स स्थापना में आयी खामी को देखेंगे.

admin: