शांत शहर वाले दरभंगा के टावर चौक पर फिर बवाल, तीन FIR दर्ज

दरभंगा । टाउन थाना क्षेत्र के दरभंगा टावर चौक पर बुधवार की रात सरस्वती पूजा विसर्जन जुलूस में शामिल लोगों की ओर मारपीट किए जाने के विरोध में स्थानीय लोगों ने दूसरे दिन गुरुवार को जमकर बवाल काटा। एक पान दुकानदार रमेश भगत को पकड़ की धुनाई कर दिया। साथ ही उसके सामान को फेंक दिया। इससे मामला फिर उग्र हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को खदेड़ दिया। लेकिन, कुछ देर के बाद मामला फिर गर्म हो गया। स्थानीय लोगों ने दुकान को बंद करा दिया और बांस-बल्ला से सड़क जाम कर दिया। नाराज लोगों का कहना था कि हमे इंसाफ चाहिए। कुछ ही देर में पूरा इलाका पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। दोषियों पर कार्रवाई करने के लिए नाराज लोगों से आवेदन लिया गया। मामले को लेकर थानाध्यक्ष सीताराम प्रसाद ने बताया कि तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है। पहली प्राथमिकी दरभंगा टावर मोहल्ला के लोगों की ओर से दर्ज कराई गई है। जबकि, दूसरी प्राथमिकी सेनापत मोहल्ला स्थित पूजा समिति पर दर्ज कराई गई है। इस पर समय निर्धारण के बाद जुलूस निकालने का आरोप लगाया गया है। जबकि, तीसरी प्राथमिकी डीजी बाजा संचालक पर की गई है। थानाध्यक्ष प्रसाद ने बताया कि जुलूस में सोनू साउंड का डीजे बाजा शामिल था। उसने पहले एक लाख का बांड भी भरा था। बावजूद, छुपाकर उसने डीजी बाजा को भाड़ा पर लगा दिया। इस कारण से उसके ऊपर भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। बता दें कि शिवाजीनगर मोहल्ला के पूजा समिति ने प्रशासनिक आदेश के विरुद्ध 11 की जगह 13 फरवरी को सरस्वती पूजा के विसर्जन के लिए जुलूस निकाला। दरभंगा टावर स्थित भगत ¨सह चौक पर जुलूस के पहुंचते ही कुछ लोग बसेरा गली में प्रवेश कर नशापान करने लगे। जिसका विरोध किया गया तो माइक से पिटाई किए जाने का अलांउस कर दिया। इसके बाद काफी संख्या में लोग हाथ में लाठी-डंडा लिए कई को पीट डाला। साथ ही कई दुकानों के सामान को क्षतिग्रस्त कर दिया। घर के एस्बेसटस को फोड़ डाला।

admin: