दरभंगा में अंतर जिला वाहन लुटेरा गिरोह के तीन शातिर गिरफ्तार

दरभंगा, संवाददाता । जिले के सदर, सिमरी थाना और भालपट्टी व मब्बी ओपी क्षेत्र स्थित एनएच-57 फोरलेन पर लगातार वाहन लूटने वाले अंतरजिला गिरोह के तीन बदमाशों को पुलिस ने दबोच लिया। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने गोपालगंज के नगर थाने के बंजारी मोहल्ला में छापेमारी कर 22 ट्रैक्टर, एक बोलेरो, एक स्कार्पियो बरामद कर लिया। जिसे छानबीन के लिए वहां की पुलिस के हवाले कर दिया गया।

गिरफ्त में आया सुशील सिंह गोपालगंज जिले के बैकुंठपुर थाने के हमीदपुर गांव निवासी दामोदर सिंह का पुत्र है। मनोज यादव गोपालगंज जिले के कुचायकोट थाने के बिंदवलिया निवासी बैजनाथ यादव का पुत्र है। जबकि, तीसरा अजय कुमार सिवान जिले के हसनपुर थाने क्षेत्र के भगवानपुर निवासी श्रीनिवास सिंह का पुत्र है।

शुक्रवार को एसएसपी बाबू राम ने बताया कि यह गिरोह 28 अक्टूबर 2018 से लेकर 2 नवंबर तक कुल चार ट्रैक्टर और एक पिकअप वैन को लूटा। इस मामले में 19 नवंबर 2018 को वैशाली जिले के महुआ थाना के फुलार निवासी मिंटू कुमार, मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर थाने स्थित अंजना कोर्ट निवासी पंकज सिंह, दरभंगा जिले के सिमरी थाने के बनौली गांव निवासी कैलाश शर्मा और विशाल कुमार पासवान को एक कार और एक अपाची बाइक के साथ दबोचा गया था।

इसकी निशानदेही पर गोपालगंज के नगर थाने क्षेत्र बंजारी मोहल्ला में यूपी के कुशीनगर जिले के तरैया सुजान थाने के अरौली दान निवासी मंसूर आलम के गैराज पर छापेमारी की गई। जहां से गैराज मालिक के पार्टनर गोपालगंज के कुचायकोट थाने के अमुआ विजयपुर गांव के नजमुल होदा, यूपी के कुशीनगर जिले के रामकोला थाने के मधीमठिया निवासी मिस्त्री सलाउद्दीन सहित अन्य पांच को दबोच कर 22 ट्रैक्टर, एक-एक बोलेरो और स्कार्पियो को जब्त कर वहां के थाने को सिपुर्द कर दिया गया।

एसएसपी राम ने कहा कि गिरफ्तार कर दरभंगा लाए गए तीनों शातिरों से पूछताछ से पता चला कि इस गिरोह का सरगना मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर थाने के बथना निवासी हरिशंकर सिंह का पुत्र गुड्डू सिंह है। जो फिलहाल जेल में है।

लेकिन,पूर्व में गिरफ्तार किए गए मिंटू कुमार और पंकज सिंह के अलावा मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाने के मिलनपुर निवासी अब्दुल के माध्यम से दरभंगा, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, सिवान, गोपालगंज आदि जिलों में वाहन लूट एवं चोरी की घटनाओं को अंजाम देता था।

गोपालगंज के बैंकुंठपुर थाने के हमीदपुर गांव निवासी आसनारायण सिंह, गिरफ्तार कर लाए गए सुशील सिंह एवं गैराज मालिक मंसूर आलम के माध्यम से वाहन को ठिकाना लगाता था। इसमें सुशील अपने शागिर्द गिरफ्तार कर लाए गए मनोज यादव और अजय कुमार का अलग से इस्तेमाल करता था। एसएसपी ने बताया कि गैराज मालिक अपने इलाके में वाहन ले जाकर बिक्री करता था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

admin: