भैंस को बनाया बिहार विश्वविद्यालय का कुलपति, शिक्षा व्यवस्था को लेकर जताई नाराजगी।

न्यूज़ डेस्क।
मुज़फ़्फ़रपुर,21 जनवरी।

मुजफ्फरपुर के बिहार यूनिवर्सिटी के सत्र में अनियमितता सहित विभिन्न 11सूत्री मांगों को लेकर मिथिला स्टूडेंट यूनियन द्वारा आज सोमवार को ओरिएंट क्लब मैदान से विशाल आक्रोश मार्च निकाला गया जो अघोरिया बाज़ार होते हुए एलएस कॉलेज के रास्ते बिहार यूनिवर्सिटी पहुंचा। मार्च में छात्रों द्वारा एक भैंस को भी लाया गया जिसे छात्र यूनिवर्सिटी के वीसी बता रहे थे। मार्च में शामिल यूनियन के एक पदाधिकारी ने कहा कि ” 3 साल की डिग्री 5 साल में दिया जा रहा है और वीसी भैंस की तरह आराम फरमा रहे है अतः हमने एक भैंस अर्थात वीसी महोदय को भी अपने आंदोलन में शामिल किया है। “ यूनियन के छात्रों का कहना है कि यूनिवर्सिटी के लेट लतीफी के कारण हर वर्ष हजारों छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ होता है, उन्हें 3 साल की डिग्री 5 साल में दिया जाता है।

जबकि विश्वविद्यालय प्रशासन एक दम बेसुध रहती है। उन्होंने मांगे पूरी नहीं होने की स्थिति में उग्र आंदोलन करने की चेतावनी दी है। मार्च के बाद यूनियन का एक प्रतिनिधिमंडल वीसी से मुलाकात की। यूनियन के पदाधिकारी ने बताया कि “सभी लेट सेशन को समय पर रेगुलराइज करने के लिए वीसी ने 31 जुलाई तक का समय मांगा, हमने उनके कहे से समय बढाकर 15 अगस्त तक का डेडलाइन दिया है। बांकी सभी मांगों पर सहमति बनी और तय समय के भीतर पूरा करने का आश्वासन मिला है।”

admin: