DMCH के छात्रों द्वारा इमरजेंसी एवँ ओपीडी में तालाबंदी के खिलाफ मरीजों के परिजनों का बढ़ा आक्रोश,घंटों सड़क जाम।

दरभंगा, संवाददाता । जिले के डीएमसीएच के इमरजेंसी विभाग एवं ओपीडी में एमबीबीएस के 2014 बैच के छात्रों की ओर से तालाबंदी के खिलाफ मंगलवार को आक्रोश बढ़ गया। तालाबंदी के कारण मरीजों के परिजन आक्रोशित हो गए। इसके बाद अस्पताल के सामने कर्पूरी चौक से नाका नंबर-6 की ओर जाने वाली सड़क को जाम कर दिया और तालाबंदी करने वालों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

आक्रोशित छात्रों का कहना है कि बिहार के आठ कॉलेज में से मात्र डीएमसी के छात्रों के परीक्षा का सेंटर एमआइटी, मुजफ्फरपुर किया गया है। जबकि अन्य कॉलेजों का सेंटर गृह जिला में बनाया गया है।

इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस बल के साथ पहुंचे बेंता ओपी प्रभारी आशुतोष कुमार वहां पहुंचे और आक्रोशितों को समझाकर जाम समाप्त कराया। इस दौरान करीब एक घंटे तक जाम रहा। जाम के कारण आवागमन पर व्यालपक असर पड़ा। इससे लोगों की परेशानियां काफी बढ़ गई। इधर, डीएमसीएच परिसर में छात्रों, मरीजों एवं उनके तीमारदारों परिजनों के बीच गहमागहमी कायम है।

बताते हैं कि गृह जिला में सेंटर बनाने की मांग को लेकर 2014 बैच के छात्रों ने सोमवार की शाम में इमरजेंसी विभाग को बंद करा दिया। जबकि मंगलवार को ओपीडी में भी तालाबंदी कर दी। छात्रों के आंदोलन से मरीजों की उपचार व्यवस्था चरमरा गई है। यहां आने वाले गंभीर मरीज बैरंग लौटने को विवश हैं। अधीक्षक डॉ. राजरंजन प्रसाद ने बताया कि छात्रों एवं आर्यभट्ट विवि से वार्ता की जा रही है।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *