विश्वविद्यालय-कॉलेजों में कर्मचारियों के रिक्त पद जल्द भरे जाऐंगे : वीसी

0

दरभंगा । सरकार के स्तर से शिक्षकेतर कर्मियों की बहाली पर लगी रोक हट चुकी है। विवि मुख्यालय का रोस्टर बन चुका है। कॉलेजों में रोस्टर बनने की प्रक्रिया जारी है। जल्द ही विश्वविद्यालय व महाविद्यालय में कर्मचारियों के रिक्त पदों को भरा जाएगा। लनामिविवि में सीनेट की बैठक में अभिभाषण प्रस्तुत करते हुए कुलपति प्रो. सुरेंद्र कुमार ¨सह ने सदन को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अकादमित गुणवत्ता के संवर्धन-संरक्षण के लिए एकेडमिक एंड एडमिनिस्ट्रेटिव ऑडिट आरंभ कर दिया गया है। सेवानिवृत शिक्षक-कर्मियों के प्रति हम संवेदनशील हैं। चार पेंशन अदालत लग चुके हैं। सेवानिवृति के दिन ही हम सेवांत लाभ देने की स्थिति में हैं। शिक्षक-कर्मियों की कमी का समाधान कर लिया गया है। आउटसोर्स कर्मियों के संविदा पर नियुक्ति की प्रक्रिया जारी है। बड़ी संख्या में रिक्त पदों पर अतिथि शिक्षकों की नियुक्ति चल रही है। 29 अंगीभूत, 5 संबद्ध व 3 बीएड कॉलेजों का नैक मूल्यांकन हो चुका है। दूरस्थ शिक्षा निदेशालय में विज्ञान संकाय समेत 31 विषयों के डिग्री व पीजी विषयों का संबंधन मिल चुका है। डीडीई में मैथिली की पढ़ाई शुरु की गई है। यूनिसेफ के साथ करार कर 2018-20 तक 1 करोड़ 53 लाख से विभिन्न कार्यशालाएं कर दूरस्थ शिक्षा निदेशालय को टीचर एडुकेटर के लिए सेंटर ऑफ एक्सेलेंस के रूप में विकसित किया जाएगा। महाराजा कामेश्वर ¨सह पुस्तकालय एवं सामाजिक विज्ञान शोध संस्थान में राष्ट्रीय अभिलेखागार एवं राष्ट्रीय पांडुलिपि मिशन के सौजन्य से पांडुलिपि संरक्षण व संवर्धन का कार्य जारी है। विवि में पब्लिकेशन सेल का गठन कर लिया गया है। मार्च में दीक्षांत समारोह प्रस्तावित है जिसमें 2017 व 2018 की डिग्रियां बांटी जाएगी। तरंग की मेजबानी की गई और लनामिविवि इसमे ओवरऑल चैंपियन भी रहा। जनवरी में पूर्वी क्षेत्र अंतर विश्वविद्यालय सांस्कृतिक महोत्सव पूर्वोत्सव की मेजबानी भी लनामिविवि को ही मिला है। वर्ष 2018 में दो-दो छात्र संघ चुनाव सफलतापूर्वक कराए गए। शिक्षकों की सेवाओं के संबंध में विवि सजग है। न्यायमूर्ति एसएन झा कमीशन के निर्देश के आलोक में सीडब्ल्यूजेसी 5859/96 के तहत पूर्व की विलोपित सेवा का सामंजन कर लिया गया है। शिक्षकों के रूके प्रोन्नति को चालू कर दिया गया है। चतुर्थ चरण के अंगीभूत कॉलेजों के शिक्षक-कर्मियों की वर्षों से लंबित सेवा का सामंजन कर लिया गया है। संबद्ध महाविद्यालयों के शिक्षकों की चयन समिति की अनुशंसा पर सेवा सामंजन के अधिकांश मामलों का निष्पादन किया जा चुका है। कुलपति ने कहा कि विवि के सभी कार्यों का डिजिटाइजेशन हमारा लक्ष्य है। यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट इंफार्मेशन सिस्टम लागू करने की प्रक्रिया जारी है। दरभंगा इंटर्नशीप योजना पर काम चल रहा है। पीजी में सीबीसीएस लागू करने, कई विषयों के पाठ्यक्रम तैयार करने का राजभवन का टास्क पूरा करने समेत कई उपलब्धियों पर कुलपति ने प्रकाश डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here