मधुबनी पेंटिंग से संवरने लगा कम्युनिटी कॉलेज

0

मुजफ्फरपुर, संवाददाता । एलएस कॉलेज के कम्युनिटी कॉलेज परिसर में चल रहे 34 बिहार बटालियन मधुबनी की ओर से आयोजित एनसीसी कैंप आखिरकार मिथिला की मशहूर मधुबनी पेंटिंग से आकर्षक रंग-रूप में संवरने लगा है। उसकी दीवारों व खंभों को मधुबनी पेंटिंग्स से सजाने का काम फिलहाल एनसीसी की महिला कैडेट्स कर रही हैं। 16 दिसंबर को इसपर चर्चा हुई और एनसीसी के अफसरों ने हामी भरी तो यह सोच जमीन पर उतरकर मधुबनी पेंटिंग के रूप में खूबसूरती बिखेर रही है
बताते चलें कि दो-तीन दिन के प्रयास से ही कम्युनिटी कॉलेज कैंपस की रंगत निखरने लगी है। फिलहाल, बरामदे और खंभों पर कैडेट्स चित्रकारी कर रहे हैं। प्राचार्य प्रो.ओमप्रकाश राय का कहना है कि आगे अच्छा फीडबैक और लोगों का समर्थन-सहयोग मिला तो इसे कॉलेज कैंपस के अन्य हिस्सों में भी प्रयोग किया जाएगा। पहले कम्युनिटी कॉलेज कैंपस के अंदर-बाहर चित्रकारी होगी। इससे आगे बढ़कर एलएस कॉलेज खेल मैदान की बाउंड्री पर भी मधुबनी पेंटिंग की छटा बिखेरी जाएगी। ताकि, उधर से आने-जाने वालों का ध्यान यह पेंटिंग अपनी ओर बरबस खींचे। इनमें राम-सीता का वाटिका में मिलन, स्वयंवर में राम के धुनष तोडऩे, सीता की विदाई, कृष्ण जन्म, माखन चोरी, दुल्हन की डोली, जीव-जन्तु व पर्यावरण संरक्षण से संबंधित पेंटिग भी देखने को मिलेगी।
मधुबनी से आईं 34 बिहार बटालियन एनसीसी की 10 कैडेट्स सीमा कुमारी के नेतृत्व में सोनम, रानी, रूपम, सिमरन, प्रीति, नेहा, ज्योति, पुष्पा कुमारी ने यह काम अपने हाथों में लिया है। उनके नेतृत्व में मधुबनी पेंटिंग्स की अद्भुत चित्रकारी देखने को मिल रही है। ये सभी लड़कियां मधुबनी पेंटिंग्स में निपुण हैं। प्राचार्य ने उनकी अद्भुत कला क्षमता की प्रशंसा की। कर्नल गणेश भट्ट ने कहा कि 12 द‍िवसीय कैंप के बाद 22 दिसंबर को सभी कैडेट्स अपने घर लौट जाएंगे। लिहाजा, और दो दिन पेंटिंग हो सकेगी। इस पर प्राचार्य ने कहा कि उनके जाने पर दूसरे कलाकारों को आमंत्रित किया जाएगा ये काम अब रुकेगा नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here