बाढ़ पीड़ितों ने केंद्रीय टीम से की राहत राशि नहीं मिलने की शिकायत। न्यूज़ ऑफ मिथिला

0

दरभंगा । शनिवार को आठ सदस्यीय केंद्रीय टीम ने जिले में बाढ़ से हुई क्षति का जायजा लिया। टीम के सदस्य अलग-अलग ग्रुपों में बंटकर सुबह करीब 11 बजे जिला अतिथि गृह से निकले। उन्होंने मनीगाछी, अलीनगर, तारडीह, गौड़ाबौराम, घनश्यामपुर, बिरौल, सिंहवाड़ा, हनुमाननगर आदि प्रखंडों में बाढ़ से हुई क्षति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने पीड़ितों से बाढ़ राहत राशि और बाढ़ के दौरान चलने वाले सामुदायिक किचेन की जानकारी ली। कई लोगों ने अब तक राहत राशि नहीं मिलने की शिकायत की।

टीम के सदस्यों ने स्कूलों में पहुंचकर सामुदायिक किचेन में कितने लोगों ने भोजन किया, इसका भी आंकड़ा लिया। प्रखंड प्रशासन से यह भी जानकारी ली कि अब तक कितने लोगों को बाढ़ राहत की राशि मिली है। इसके अलावा बाढ़ के दौरान चलायी गयी स्वास्थ्य सेवा के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने बाढ़ से क्षतिग्रस्त सड़कों और पुलों का गहनता से निरीक्षण किया। उनके साथ डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम, डीडीसी डॉ. कारी प्रसाद महतो व सदर एसडीओ राकेश गुप्ता के अलावा जिला, अनुमंडल और प्रखंड के अन्य वरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

केंद्रीय टीम में राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के संयुक्त सचिव रमेश कुमार गंटा, जल शक्ति मंत्रालय के निदेशक मुकेश कुमार सिंह, एफसीडी (वित्त मंत्रालय) के निदेशक भारतेंदु कुमार सिंह, चावल विकास मंत्रालय के निदेशक वीरेंद्र कुमार सिंह, केंद्रीय भू-तल व परिवहन मंत्रालय के मुख्य अभियंता आरपी सिंह, केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय के उप निदेशक एचके मीणा, केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय के उप निदेशक लव कुश कुमार सिंह तथा बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग के अपर सचिव एम रामचंद्रडू थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here