दरभंगा: क्या सरकार लॉकडाउन का उलंघन करने वाले इस विधायक पर कार्रवाई करेगी? न्यूज़ ऑफ मिथिला

0

दरभंगा,न्यूज़ ऑफ मिथिला डेस्क : महामारी कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है, कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए देश में लॉकडाउन जारी है एवं इस खतरे से बचने के लिए सभी को सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की अपील की जा रही है, लेकिन आम लोगों के अलावा अब तो सरकार में शामिल विधायक व उनके कार्यकर्ता ही लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे है, साथ ही लोगों की जिंदगी को खतरे में डाल रहे हैं।

बिहार में एक बीजेपी विधायक द्वारा लॉकडाउन के नियमों व सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने को मामला सामने आया है, दरअसल बिहार में दरभंगा जिले के शहरी क्षेत्र से भारतीय जनता पाटी (BJP) के विधायक संजय सरावगी ने जागरूक करने के नाम पर लॉकडाउन में अपने आवास पर एक बैठक रखी एवं इस दौरान काफी भीड़ नजर आई है।

विधायक संजय सरावगी ने बैठक की तस्वीरों को अपने सोशल मीडिया फ़ेसबुस वॉल पर पोस्ट करते हुए लिखा है कि लहेरियासराय नगर भाजपा के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक हुई जिसमें प्रमूख रूप से नये राशन कार्ड का निर्माण एवं राशन कार्ड को आधार एवं बैंक खाते से जोडने जिससे की छूटे हूए लाभार्थी के खाते में एक हजार की राशी आ जाए पर चर्चा की गई। तस्वीरों से लगता है कि लॉकडाउन के नियमों का पालन नहीं किया गया।

खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लोगों से घरों में रहेन की अपील कर रहे हैं। लेकिन उन्हें क्या पता उन्हीं की पार्टी के लोग उनकी अपील की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं।

इस महामारी से देशवासियों को बचाने के लिये पुलिस और सुरक्षाकर्मी भी लगातार सड़कों पर चौकसी कर रहे हैं. वे लोगों से ‘लक्ष्मण रेखा’ नहीं लांघने तथा घरों में ही रहने का अनुरोध भी कर रहे हैं. यही नहीं, लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को शर्मसार करने के लिये पुलिसकर्मी नित नये तरीके भी अपना रहे हैं. इसके बावजूद लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन हो रहा है. लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत प्राथमिकी भी दज कर रही है. एक अनुमान के अनुसार दूसरे दौर के लॉकडाउन के दौरान नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ दर्ज हो रही प्राथमिकी और शिकायतों का आंकड़ा अगर हज़ारों पार कर जाये तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए.

आश्चर्य उस वक्त होगा जब सरकार और पुलिस प्रशासन लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन के आरोप में ‘वीवीआईपी और पहुंच वालों’ के खिलाफ मामले दर्ज करेगी.

फिलहाल तो ऐसा लगता नहीं है कि नियमों की धज्जियां उड़ाने के बावजूद ऐसा करने वालों की सूची में किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति या वीवीआईपी का नाम हो.

अब देखना होगा कि सरकार व प्रशासन लॉक डाउन की धज्जियाँ उड़ाने वाले इस विधायक पर कारवाई करती है या नही!

न्यूज़ ऑफ मिथिला भी अपने पाठकों से अपील करती है कि आप सभी अपने-अपने घरों में रहें। लॉक डाउन का सख्ती से पालन करें। स्वस्थ और सुरक्षित रहें। जान है तो जहान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here